वेबसाइट कैसे बनाएँ ?

Facebook
Telegram
WhatsApp
LinkedIn

आखिर खुद की वेबसाइट कैसे बनाएं? Internet के बारे में कौन नहीं जानता है. इसमें हम कोई भी जानकारी जानना चाहें तो उसे प्राप्त कर सकते हैं. वहीँ जो जानकरी हमें search engine प्रदान करती है वो कहीं से तो आते हैं, या किसी ने तो लिखकर publish किया है तभी हमें वो पढने के लिए उपलब्ध हैं. जी हाँ दोस्तों में जिस information sources की बात कर रहा हूँ उसे Websites कहते हैं. लेकिन अक्सर लोगों के मन में ये सवाल जरुर होता है की ये Website कैसे बनती है. इसका एक आसान सा जवाब नहीं है क्यूंकि Website को बनाने की एक पूरी प्रक्रिया होती है. और इसे समझने के लिए आपको यह article Website कैसे बनती है जरुर से पढनी चाहिए.

Internet Users होने के नाते आपने भी बहुत से Websites देखे होंगे लेकिन क्या आपको मालूम है की ये वेबसाइट कैसे बनाएँ? यदि नहीं तो चिंता करने की कोई भी जरुरत नहीं है क्यूंकि आज हम इसी विषय में पूरी जानकारी प्राप्त करेंगे जिससे हमे Website क्या है के साथ साथ ये कैसे बनायीं जाती है, उसके बारे में भी जानकारी मिल जाएगी. इसलिए आज मैंने सोचा की क्यूँ न आप लोगों को वेबसाइट कैसे बनाते हैं हिंदी में के बारे में कुछ तथ्य बताई जाये. क्या पता आपको इसमें कुछ नया सीखने को मिल जाये. तो फिर देरी किस बात की चलिए शुरू करते हैं और Website कैसे बनती है के बारे में पूरी जानकरी प्राप्त करते हैं.

 

वेबसाइट क्या है?

एक Website web pages का collection होता है (Web Pages: ऐसे documents जिन्हें की Internet के द्वारा access किया जाता है), जो की आप अभी एक ऐसा ही अपने सामने देख रहे हैं. एक web page वही होता है जिसे की आप अपने screen में देखते हैं जब आप एक web address को type करते हैं, किसी एक link पर click करते हैं, या कोई query एक search engine में खोजते हैं. एक web page में कोई भी प्रकार का information हो सकता है जिसमें की text, color, graphics, animation और sound मुख्य रूप से होते हैं.

जब आपको कोई अपना web address देता है, तब generally ये उस website का home page होता है. इसमें आपको उस website में क्या है उसके विषय में जानकारी प्रदान करता है. उस home page से, आप चाहें तो अलग अलग sections को जा सकते हैं और दुसरे contents को पढ़ सकते हैं. एक website में एक page, या बहुत सारे pages हो सकते हैं, ये निर्भर करता है की उस website का owner visitors को क्या प्रदान करना चाहता है. अक्सर Websites ज्यादा information होते हैं.

1. एक डोमेन नाम Select और Register करें

एक ऐसा domain name का चुनाव करें जो की brief, easy to remember (आसानी से याद रहता हो) और जो की आपके website content को suit करे. कुछ common top-level domains में होते हैं .com, .edu, .org, and .net, जो की stand करते हैं commercial, education, organization, और network respectively के तोर पर. कोशिश करें की top-level domain को अपने website के purpose के लिए match करें. लेकिन, कुछ top-level domains में कोई real restrictions नहीं होती है (जैसे की org और com), इसलिए अगर आप जिस नाम को लेना चाहते हैं एक domain में, वो दुसरे domain में available भी हो.

2. अपने लिए सही Web Hosting को पहले ढूंढे, Choose करें और फिर खरीदें

उचित host का चुनाव करें और जरुरी के bandwidth को secure भी करें जो की आपके website के smooth running के लिए necessary होता है, एक expected मात्रा की traffic के लिए. अब आप सोच रहे होंगे की ये Bandwidth क्या होता है? तब Bandwidth का अर्थ होता है की एक given time period में कितनी amount की data transfer होने के लिए allow किया जा सकता है. इसे ही bandwidth कहा जाता है.

Leave a Comment