The Kashmir Files Full Story in { Hindi + English }

Facebook
Telegram
WhatsApp
LinkedIn

The Kashmir Files फिल्म की कहानी?

फिल्म की कहानी कश्मीर के एक टीचर पुष्कर नाथ पंडित (अनुपम खेर) की जिंदगी के इर्द-गिर्द घूमती है. कृष्णा (दर्शन कुमार) दिल्ली से कश्मीर आता है, अपने दादा पुष्कर नाथ पंडित की आखिरी इच्छा पूरी करने के लिए. कृष्णा अपने दादा के जिगरी दोस्त ब्रह्मा दत्त (मिथुन चक्रवर्ती) के यहां ठहरता है. उस दौरान पुष्कर के अन्य दोस्त भी कृष्णा से मिलने आते हैं. इसके बाद फिल्म फ्लैशबैक में जाती है.

फ्लैशबैक में दिखाया जाता है कि 1990 से पहले कश्मीर कैसा था. इसके बाद 90 के दशक में कश्मीरी पंडितों को मिलने वाली धमकियों और जबरन कश्मीर और अपना घर छोड़कर जाने वाली उनकी पीड़ादायक कहानी को दर्शाया जाता है. कृष्णा को नहीं पता होता कि उस दौरान उसका परिवार किस मुश्किल वक्त से गुजरा होता है. इसके बाद 90 के दशक की घटनाएं की परतें उसके सामने खुलती हैं और दर्शाया जाता है कि उस दौरान कश्मीरी पंडित किस पीड़ा से गुजरे थे. पूरी कहानी इसी के इर्द-गिर्द घूमती है.

The Kashmir Files Full Story

The story of the film revolves around the life of Pushkar Nath Pandit (Anupam Kher), a teacher from Kashmir. Krishna (Darshan Kumar) comes to Kashmir from Delhi, to fulfill the last wish of his grandfather Pushkar Nath Pandit. Krishna stays with his grandfather’s best friend, Brahma Dutt (Mithun Chakraborty). During that time other friends of Pushkar also come to meet Krishna. After this the film goes into flashback.

It is shown in flashback how Kashmir was before 1990. This is followed by the painful story of Kashmiri Pandits being threatened and forced to leave Kashmir and their home in the 90s. Krishna does not know what difficult times his family must have gone through during that time. After this, the layers of the events of the 90s are revealed in front of him and it is shown what pain the Kashmiri Pandits went through during that time. The whole story revolves around this.

Leave a Comment