Scientist Kaise Bane – योग्यता, परीक्षा, सैलरी की पूरी जानकारी।

Facebook
Telegram
WhatsApp
LinkedIn

साइंटिस्ट ऐसे प्रोफेशनल है जो किसी देश के विकास और अनुसंधान में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है। वैज्ञानिक बनने की इच्छा रखने वाले छात्रों को उन कई चुनौतियों के लिए मानसिक रूप से तैयार रहना चाहिए जिनका वे वैज्ञानिक के रूप में सामना कर सकते है क्योंकि ये करियर विकल्प सबसे कठिन और समय लेने वाले करियर में से एक है। अगर आप भी जानना चाहते है कि Scientist Kaise Bane तो यहां आपको इसके बारे में विस्तृत जानकारी मिलेगी।

किसी संबंधित क्षेत्र में एक साइंटिस्ट बनने में आपको 7-10 साल या उससे भी अधिक समय लगता है। वैज्ञानिक बनने का सपना तो सभी देखते है परंतु बहुत कम ही ऐसे लोग होते हैं जो अपने सपने को सफलतापूर्वक हकीक़त में बदल पाते है। इसके लिए उन्हें काफी मेहनत और कड़ी मशक्कत करनी पड़ती है। भारत में वैज्ञानिक बनना कोई आसान कार्य नही है लेकिन यदि आप हमारे द्वारा बताए गये महत्वपूर्ण बिंदुओं का अनुसरण करें तो आप निश्चित ही एक अच्छे Scientist बनेगें।

अगर आपकी भी रूचि साइंटिस्ट के क्षेत्र में है और आपको नयी-नयी चीजों का आविष्कार करने का शौक है तो इस पोस्ट में मैं आपको साइंटिस्ट कैसे बने (How to Become a Scientist), योग्यता, परीक्षा, सैलरी, कोर्स डिटेल्स आदि से संबंधित पूरी जानकारी प्रदान करने जा रहा हूँ।

साइंटिस्ट कौन होते है?

एक वैज्ञानिक (Scientist) वह है जिसने विज्ञान का अध्ययन किया है और जिसका काम विज्ञान में पढ़ाना या शोध करना है। साइंटिस्ट शब्द से तात्पर्य एक ऐसा व्यक्ति से है जो विज्ञान का अध्ययन कर रहा है तथा उसे प्राकृतिक और भौतिक विज्ञानों में से किसी एक या एक से अधिक विषयों का कुशल ज्ञान भी है। “वैज्ञानिक” शब्द Theologian Philosopher ‘विलियम व्हीवेल’ (William Whewell) द्वारा दिया गया था।

साइंटिस्ट शब्द सुनते ही हमे गर्व की अनुभूति होती है। अक्सर देखा गया है कि जब हम किसी बच्चे से पूछते हैं कि बोलो बेटा बड़े होकर क्या बनना चाहते हो, तो हमें अलग-अलग तरह के जवाब मिलते है जिनमे से एक हमेशा सुनने को मिलता है कि मैं बड़ा होकर साइंटिस्ट बनूंगा।

Scientist Kaise Bane

साइंटिस्ट यानि वैज्ञानिक बनने के लिए आपको 10th पास करने के बाद फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी, मैथ्स जैसे विषयो का चयन करना होता है। इसके बाद आप एम एससी, एम फिल, पीएचडी, इंजीनियरिंग आदि किसी भी विषयों में ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन कर सकते है। अगर आप इसमें सफल होते है तो आप वैज्ञानिक बंनने के लिए आयोजित पदों के लिए आवेदन कर सकते है।

साइंटिस्ट के प्रकार

Scientist विभिन्न प्रकार के होते है आप नीचे दिए करियर विकल्पों में से किसी को भी चुन सकते है –

  • जियोलॉजिस्ट
  • जियोग्राफर
  • मरीन बायोलॉजिस्ट
  • एथोलोजिस्ट
  • जेनेटिसिस्ट
  • माइक्रोबायोलॉजिस्ट
  • प्लेनटॉलोजिस्ट
  • साइटोलॉजिस्ट
  • इकोलॉजिस्ट
  • एपिडेमियोलॉजिस्ट
  • फिजिसिस्ट
  • सीस्मोलॉजिस्ट
  • जूलॉजिस्ट
  • एग्रोनॉमिस्ट
  • एस्ट्रोनॉमर
  • बॉटनिस्ट
  • केमिस्ट

साइंटिस्ट कैसे बने की पूरी प्रक्रिया

अगर आप साइंटिस्ट बनना चाहते है तो इसकी चरण दर चरण प्रक्रिया नीचे दी गई है –

1. अपनी 11वीं-12वीं कक्षा PCB से पूरी करें

साइंटिस्ट बनने के लिए छात्रों को एक ऐसा निर्णय लेना चाहिए जो उनके वैज्ञानिक बनने के रास्ते को आसान कर दें। इसलिए उन्हें 10वीं कक्षा के बाद उस विषय का अध्ययन करना चाहिए, जिसमें उनकी रुचि हो और उस विषय में उच्च शिक्षा प्राप्त करना जारी रखें। साइंटिस्ट बनने के लिए छात्र को अपनी 11वीं और 12वीं कक्षा PCB (फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी) या मैथ्स से पूरी करनी चाहिए।

2. सही स्ट्रीम से Graduation पूरा करें

फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी या मैथ्स से स्कूली शिक्षा पूरी होने के बाद अगला बड़ा फैसला स्नातक (Graduation) और आगे की उच्च शिक्षा के लिए सही विषय या स्ट्रीम का चयन करना है। छात्र को यह सोचना चाहिए कि वे किस स्ट्रीम (BSc होनोर्स या BSc प्लेन) में जाना चाहते है और उसके बाद कॉलेज चुनने का निर्णय लें।

3. अब अपनी Master Degree पूरी करें

यदि आपने अपना ग्रेजुएशन पूरा कर लिया है, तो आप मास्टर डिग्री या पीएच.डी. डिग्री का विकल्प चुन सकते है। मास्टर ऑफ साइंस, संक्षिप्त रूप में MSc, 2 साल का PG साइंस कोर्स है जो रसायन विज्ञान, भौतिकी, जीव विज्ञान, गणित, वनस्पति विज्ञान, जूलॉजी, फार्मेसी और नर्सिंग जैसे वैज्ञानिक क्षेत्रों गहन व्यावहारिक और सैद्धांतिक ज्ञान प्रदान करता है।

4. इंटर्नशिप करें

आपके स्नातक और मास्टर डिग्री के दौरान, विश्वविद्यालयों या कंपनियों की अनुसंधान प्रयोगशालाओं में इंटर्नशिप करना बहुत महत्वपूर्ण है। इंटर्नशिप के दौरान आपको अनुसंधान विधियों, प्रक्रियाओं और वैज्ञानिक उपकरणों से अवगत कराया जाना चाहिए। मास्टर डिग्री के बाद आपको शोध सहायक के रूप में काम मिल सकता है।

Scientist Banne Ke Liye Eligibility

  • शैक्षिक योग्यता (Education Qualification)

साइंटिस्ट बनने के लिए आपको 10th के बाद Physics, Chemistry, Biology, Maths जैसे विषयो का चयन करना होता है। इसके बाद इन्हीं विषयों में ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन जैसे- एम एससी, एम फिल, पीएचडी, इंजीनियरिंग आदि कर सकते है। अगर आप इसमें सफल होते है तो आप वैज्ञानिको के पदों के लिए आवेदन कर सकते है।

  • आयु सीमा (Age Limit)

एक साइंटिस्ट वैज्ञानिक बनने के लिए कोई आयु सीमा निर्धारित नहीं है। इसलिए आप एक वैज्ञानिक बनने के लिए किसी भी उम्र में Apply कर सकते है। इसके साथ ही आप किसी और विभाग में रहते हुए भी अपनी रिसर्च को जारी रख सकते है और सफलतापूर्वक अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकते है।

ISRO Me Scientist Kaise Bane

ISRO (भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन) हमारे देश को अंतरिक्ष और विज्ञान के क्षेत्र में आगे बढ़ाने का कार्य करता है। इसरो में काम करने वाले प्रत्येक वैज्ञानिक दिन-रात अपने देश को आगे बढ़ाने के लिए काम करते रहते हैं। अगर आपका सपना भी ISRO के वैज्ञानिक बनने का है तो आइये जानते है इसरो में वैज्ञानिक कैसे बने (How to Become Scientist in ISRO)।

इसरो में साइंटिस्ट बनने के लिए आपको IIST (Indian Institute Of Space Technology) में एडमिशन लेना होता है। इस इंस्टिट्यूट में एडमिशन हो जाने पर ISRO उन विद्यार्थीयो को Directly साइंटिस्ट (वैज्ञानिक) के पद पर भर्ती कर लेता है। IIST में एडमिशन लेने के लिए विद्यार्थी को क्लास 12th में मैथ्स और साइंस विषय लेना पड़ेगा।

IIST में आप या तो 4 साल की B.Tech की डिग्री ले सकते है या 5 साल का एक ड्यूल डिग्री प्रोग्राम। इस डिग्री में आपको 7.5 CGPA मेन्टेन करना होता है और उसके बाद ISRO के पास जो भी Vacancy होती है वह उसमें आपकों नियुक्ति देता है। IIST में लगभग जितने भी विद्यार्थी होते है उन्हें इसरो में सीधे जॉब मिल जाती है।

इसरो (भारतीय अन्तरिक्ष अनुसन्धान संगठन) हर साल Scientist के पद के लिए देश के टॉप कॉलेज जैसे– IIT (Indian Institute Of Technology) और NIT (National Institute Of Technology) में जाते है और वहां पर जो कैंडिडेट्स उन्हें अच्छे लगते है उनका इंटरव्यू लेकर उन्हें भर्ती कर लेते है।

इसरो में वैज्ञानिक बनने के लिए कौन सी परीक्षा होती है?

प्रत्येक साल इसरो एक एग्जाम आयोजित करता है, जिसे ‘ICRB’ यानी (ISRO Centralized Recruitment Board) Exam कहते है।

यह Exam तीन केटेगरी में आयोजित करवाई जाती है –

  • इलेक्ट्रॉनिक
  • मैकेनिकल
  • कंप्यूटर

आप बैचलर ऑफ़ इंजीनियरिंग, बैचलर ऑफ़ साइंस या बैचलर ऑफ़ टेक्नोलॉजी करने के बाद यह एग्जाम दे सकते है। इस एग्जाम को देने के लिए आपको कम से कम 65% Marks या उससे अधिक लाने होंगे। यदि आपके कॉलेज में CGPA का सिस्टम है तो आपको कम से कम 6.84 CGPA लाना होगा।

Scientist Ki Salary

अगर हम बात Scientist Salary की करे तो यह पूरी तरह साइंटिस्ट के योग्यता, संस्थान जहाँ से उसे डिग्री प्राप्त हुई है तथा क्वालिफिकेशन व अनुभव पर निर्भर करती है।

वैज्ञानिकों को शुरुआत से ही काफी अच्छी सैलरी मिलती है। इन्हें ₹30,000 से लेकर के ₹1,00,000 प्रति महीने तक की सैलरी मिलती है जो समय और अनुभव के साथ-साथ बढ़ती जाती है। रिसर्च के क्षेत्र में आज ऐसे बहुत से Scientist है जो हर साल लाखों के पैकेज पर अपनी सेवाएं दे रहे है।

साइंटिस्ट बनने के लिए प्रवेश परीक्षाएं

साइंटिस्ट बनने के लिए अलग-अलग कोर्सेज के हिसाब से होने वाली प्रवेश परीक्षाएं (Entrance Exam) इस प्रकार है –

BSc (बेचलर डिग्री)

  • JET
  • NPAT
  • BHU UET
  • SUAT
  • CUCET

मास्टर्स डिग्री

  • JNUEE
  • BHU PET
  • BITSAT
  • TISS NET
  • DUET

PhD

  • UGC NET
  • CSIR UGC NET
  • GATE

टॉप भर्तीकर्ता संस्थान

भारत में साइंटिस्ट बनने के लिए टॉप भर्तीकर्ता संस्थान इस प्रकार है –

  • भारतीय वायु सेना
  • मिनिस्ट्री ऑफ माइंस
  • राष्ट्रीय वैमानिकी और अंतरिक्ष प्रशासन (NASA)
  • भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO)
  • भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (ASI)
  • भारतीय विज्ञान शिक्षा और अनुसंधान संस्थान (IISER)
  • इंटरनेशनल फ्लेवर्स एंड फ्रैग्रेंस इंडिया लिमिटेड
  • राष्ट्रीय कोशिका विज्ञान केंद्र (NCCS)
  • इंस्टीट्यूट फॉर स्टेम सेल बायोलॉजी एंड रीजनरेटिव मेडिसिन (InStem)
  • वैमानिकी विकास एजेंसी (ADA)

Conclusion

दोस्तों आप मिसाइल मैन एपीजे अब्दुल कलाम को तो जानते ही होंगे और शायद वो आपके आइडियल भी है। वो आज हमारे बीच नही है पर उनके योगदान व कृतियां जग प्रसिद्ध है। इसी तरह यदि आपका सपना भी साइंटिस्ट बनकर भारत देश में विभिन्न तरह के अविष्कार करके देश का मान बढ़ाना है तो ऊपर बताई गयी ISRO Me Scientist Kaise Bane in Hindi आपके लिए महत्वपूर्ण साबित होगी।

तो दोस्तों, ये थी Scientist Kaise Banne Ki Puri Jankari जिसे पढ़कर आपको Scientist Banne Ke Liye Kya Karna Padta Hai ये समझ आ गया होगा। अगर आपको हमारा ये लेख Scientist Kaise Bante Hain पसंद आया हो, तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी ज़रूर Share करें, और अगर आपके पास हमारे लिए कोई सवाल है, तो उसे Comment में लिखकर हमें जरूर बताए।

साइंटिस्ट कैसे बने – FAQs

1. भारत का सर्वप्रथम वैज्ञानिक कौन था?

भारत के सबसे पहले वैज्ञानिक श्री चंद्रशेखर वेंकटरमन थे।

2. दुनिया के सबसे महान वैज्ञानिक कौन थे?

अल्बर्ट आइंस्टीन (1879-1955) को दुनिया का सबसे महान और प्रसिद्ध वैज्ञानिक माना जाता है।

3. साइंटिस्ट कितने प्रकार के होते हैं?

  • पृथ्वी वैज्ञानिक
  • जीव वैज्ञानिक (Biologists)
  • समाज वैज्ञानिक
  • गणितज्ञ वैज्ञानिक
  • प्रौद्योगिकी एवं कृषि वैज्ञानिक

आपको हमारा यह लेख कैसा लगा ?

Leave a Comment