crossorigin="anonymous"> फाइकोमाइसिटीज » Khan Sir Official
फाइकोमाइसिटीज

फाइकोमाइसिटीज :

1. आवास : इस वर्ग के कवक जलीय आवासों , सड़ी गली लकड़ियों नम तथा शीलन वाले स्थानों अथवा पौधों पर अविकल्पी परजीवी के रूप में पाये जाते है।

2. इनका कवक जाल पररहित तथा बहुकेन्द्रीय होता है।

3. अलैंगिक जनन चल बीजाणु या अचल बीजाणु द्वारा होता हैं।

4. दो युग्मकों के संलयन से युग्मणु बनते है।

5. युग्मक आकारिकी की दृष्टि से संयुग्मकी , असमयुग्मकी अथवा विषमयुग्मकी होते है।

उदाहरण : म्यूकर , राइजोपस , एल्बूयगो

 

Share जरूर करें ‼️….
Leave A Comment For Any Doubt And Question :-