Doctor Kaise Bane – डॉक्टर बनने के लिए योग्यता, परीक्षा, फीस।

Facebook
Telegram
WhatsApp
LinkedIn

बहुत से लोग अपने जीवन में एक सफल और बड़ा डॉक्टर बनने का सपना देखते है, लेकिन डॅाक्टरी जैसी कठिन परीक्षा के लिए यह जानना जरुरी है कि Doctor Kaise Bane और Doctor Banne Ke Liye Kya Karna Padta Hai. तो मैं आपको बताना चाहूंगा कि डॅाक्टर बनने के लिए आपको MBBS (Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery) करना पड़ता है, पर उसके पहले आपको Medical Entrance Exam (NEET) का पेपर क्लियर करना होता है, जिसके लिए आपको पूरे Patience के साथ तैयारी करनी पड़ती है, तभी आप ये मेडिकल प्रवेश परीक्षा निकाल सकते है

एक अच्छा डॉक्टर बनना बहुत ही सम्मान जनक पेशा है, डॅाक्टर सदैव अपने अपनी सुख-सुविधा से ऊपर उठकर Patient की सेहत का ध्यान रखते है। Doctor Ke Pass जाने की जरुरत आपको तभी होती है, जब आप बीमार पड़ते है लेकिन एक डॅाक्टर को इस पोजीशन तक पहुंचने के लिए बहुत मेहनत करनी होती है, उतनी ही मेहनत आपको अपने नाम के आगे डॉ. लगाने के लिए करनी पड़ेगी।

MBBS Kitne Saal Ka Hota Hai और कम पैसे में डॉक्टर कैसे बने (How to Become a Doctor) ऐसे प्रश्न अक्सर यूजर्स कमेंट करके पूछते है, आपके इन्ही प्रश्नों के उत्तर मैं आपको इस लेख डॉक्टर कैसे बने में बताऊंगी। अगर आप डॉक्टर बनना चाहते हैं, तो Doctor Banne Ke Liye Kya Karen इसकी जानकारी होना आपके लिए आवश्यक है।

Doctor Kaise Bane

डॉक्टर बनने के लिए आपको 10वीं के बाद 11वीं में PCB ग्रुप चुनना होगा, फिर 12वीं में आपको फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी में न्यूनतम 50% मार्क्स लाने होंगे। इसके बाद आपको NEET एंट्रेंस एग्जाम को क्लियर करना होगा, उसके बाद ही आपको मेडिकल कॉलेज में एडमिशन मिलता है। ये टोटल 5.5 साल का कोर्स है, जिसमें 4.5 साल की पढाई है और 1 साल की इंटर्नशिप शामिल होती है, जिसे सफलतापूर्वक पूरा कर लेने के बाद आप एक एमबीबीएस डॉक्टर (MBBS Doctor) बन जाते है।

Doctor Kaise Bante Hain या 12वीं के बाद डॉक्टर कैसे बने? के बारे में आईये विस्तारपूर्वक एक-एक करके समझते है –

1. दसवीं पास करें।

Doctor बनने के लिए सबसे पहले दसवीं कक्षा उत्तीर्ण करें। दसवीं पास करने के बाद आपको विज्ञान (Science) विषय चुनना है, क्योंकि इसी विषय में ही आप विज्ञान के बारे में बेसिक जानकारी प्राप्त होती है। साथ ही आपके द्वारा दसवीं कक्षा में प्राप्त किये गए अंकों के आधार पर ही आपको 11वीं में साइंस विषय मिलता है।

इसके अलावा आपकी अंग्रेजी और विज्ञान में अच्छी पकड़ होनी चाहिए। डॉक्टर बनने के लिए बौद्धिक और मानसिक रूप से एकाग्र होकर कोशिश करने की ज़रूरत है।

2. 12वीं में PCB विषय को चुने।

दसवीं के बाद आपको 11वीं एवं 12वीं कक्षा Science PCB (Physics, Chemistry & Biology) से न्यूनतम 50% Marks के साथ पास करना होगा। क्योंकि इसी आधार पर NEET प्रवेश परीक्षा के आवेदन कर सकते है जो कि डॉक्टर बनने के लिए प्रवेश द्वार है।

3. मेडिकल एंट्रेंस एग्जाम (NEET) की परीक्षा दें।

Doctor Course या MBBS का कोर्स करने के लिए 12वीं के बाद आपको मेडिकल प्रवेश परीक्षा यानि NEET (National Eligibility Entrance Test) को एग्जाम देना होगा, इसलिए नीट की तैयारी हाईस्कूल और इंटर से ही प्रारम्भ कर दें। इंटरमीडिएट में पढ़ाए जाने वाले विषयों भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीव-विज्ञान के प्रश्न आपको राष्ट्रीय पात्रता प्रवेश परीक्षा (नीट) में सहायता करेंगे।

NEET Exam Pattern –

परीक्षा का माध्यम ऑफलाइन
परीक्षा की अवधि 3 घंटे
भाषा/ माध्यम हिंदी, इंग्लिश, असम, बंगाली, गुजराती, मराठी, तमिल, तेलगू , उड़िया, कन्नड़ और उर्दू
प्रश्न पत्र का प्रकार वैकल्पिक
कुल अंक 720 अंक
अंक प्राप्त करने का प्रारूप हर सही जवाब पर 4 अंक दिया जाता है
हर एक गलत जवाब पर 1 अंक काटा जाता है
जो प्रश्न नहीं किए हैं, उन पर कोई अंक नहीं दिए जाते

4. मेडिकल कॉलेज से अपना ग्रेजुएशन पूरा करें।

NEET, या AIIMS, JIPMER MBBS आदि एग्जाम में प्राप्त अंकों के आधार पर मेडिकल कॅालेज में प्रवेश लें। आपको कौन सा कॉलेज मिलेगा, यह आपके द्वारा प्रवेश परीक्षा में प्राप्त की गयी रैंक पर निर्भर करता है। बिना प्रवेश परीक्षा दिए आप MBBS कोर्स में एडमिशन नहीं ले सकते। रैंक के अनुसार Counselling होती है, जिसमे आप बेहतर प्रदर्शन कर किसी बढ़िया गवर्नमेंट कॉलेज में प्रवेश ले सकते हैं। Doctor Ki Padhai के लिए अगर आप NEET प्रवेश परीक्षा देते है तो इसके लिए आपकी न्यूनतम आयु 17 वर्ष एवं अधिकतम आयु 25 वर्ष होना चाहिए।

5. इंटर्नशिप पूरी करें।

मेडिकल की पढ़ाई पूरी करने बाद आपको एक वर्ष की इंटर्नशिप करनी होगी। इंटर्नशिप सिखाये गये किताबी ज्ञान की वास्तविक परिस्थितियों में प्रायोगिक ट्रेनिंग है। इसके बाद आपको मेडिकल कॉउन्सिल ऑफ इंडिया (MCI) द्वारा डिग्री मिल जाती है, जिसके बाद आप किसी भी हॉस्पिटल में अपनी सेवाएं दे सकते है। अगर आप मास्टर्स कर स्पेशलिस्ट बनना चाहते है, तो आपके पास कम से कम MBBS की डिग्री होनी चाहिए।

6. Doctor की प्रैक्टिस शुरू करें।

डॉक्टर बनने के उपरोक्त चरण पार करने के बाद आप एक डॉक्टर बन जाते है, लेकिन एक डॉक्टर आजीवन Practice से अपना कौशल तराशते है। आप किसी भी सरकारी और निजी अस्पताल में प्रैक्टिस शुरू कर सकते है। आप चाहे तो अपना खुद का Clinic भी खोल सकते है और एक General Physician की तरह लोगों का उपचार कर सकते है।

MBBS Course Details in Hindi

NEET एंट्रेंस के द्वारा MBBS कोर्स करने में आपको 5.5 वर्ष का समय लगता है जिसमें 1 वर्ष की इंटर्नशिप भी शामिल है हालांकि जो छात्र NEET परीक्षा में नहीं बैठना चाहते है, वे नीट परीक्षा दिए बिना 12वीं के बाद अन्य मेडिकल कोर्स करने का विकल्प चुन सकते है।

MBBS का फुल फॉर्म Bachelor of Medicine, Bachelor of Surgery
MBBS कोर्स की अवधि 5.5 वर्ष
MBBS में एडमिशन NEET एग्जाम
MBBS का सिलेबस 19 विषय
MBBS के लिए भारत में मेडिकल कॉलेज AIIMS, PGIMER, CMC Vellore आदि
भारत में MBBS कोर्स की फीस सरकारी: 1628 – 20000 रू/-
प्राइवेट: 3,00,000 – 56,00,000 रू/-

MBBS Ke Liye Qualification

  • उम्मीदवार किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी के साथ 12वीं पास होना चाहिए।
  • 12वीं कक्षा में उम्मीदवार के प्रत्येक विषय में न्यूनतम 50% अंक होना चाहिए।
  • NEET एंट्रेंस एग्जाम में शामिल होने के लिए उम्मीदवार की न्यूनतम आयु 17 वर्ष होनी चाहिए।
  • योग्यता अंक अनारक्षित वर्ग के लिए 50%, OBC/ST/SC के लिए 40%, PwD वर्ग के लिए 45% है।

Doctor Banne Ke Liye Subject

डॉक्टर बनने के लिए आपको MBBS की पढ़ाई करनी होती है, जिसके लिए एडमिशन NEET एग्जाम के द्वारा होता है। हालांकि इससे पहले आपको 10वीं क्लास के बाद 11वीं एवं 12वीं कक्षा साइंस विषय वो भी PCB (फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी) से उत्तीर्ण करना होगी। हालांकि यह आप निर्भर करता है कि आप गणित लेना चाहते है या नहीं, परन्तु भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान महत्वपूर्ण है।

  • भौतिक (Physics)
  • रसायन विज्ञान (Chemistry)
  • जीव-विज्ञान (Biology)

Doctor Banane Ka Course

डॉक्टर बनने के लिए कई तरह के विकल्प होते है, छात्र अपनी रूचि के अनुसार कोर्स का चुनाव कर सकते है। क्योंकि बहुत से छात्र इस कश्मकश में रहते है कि, डॉक्टर कैसे बने एवं डॉक्टर बनने के लिए कौन सा कोर्स करे? इसलिए निचे आपको डॉक्टर बनने के लिए कुछ लोकप्रिय कोर्सेज की लिस्ट दी गयी है जिनमें आप अपना करियर बना सकते है –

MBBS (Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery)
BDS (Bachelor of Dental Surgery)
BAMS (Bachelor of Ayurvedic medicine and Surgery)
BHMS (Bachelor of Homeopathic Medicine and Surgery)
B.Sc Nursing (Bachelor of Science in Nursing)
B.Pharm. (Bachelor of Pharmacy)
Pharm D (Doctor of Pharmacy)
BUMS (Bachelor of Unani Medicine and Surgery)
BPT (Physiotherapy)

MBBS Kaise Bane

एमबीबीएस डॉक्टर बनने के लिए सबसे पहले आपको अपनी 12वीं कक्षा PCB से उत्तीर्ण करना होगा इसके बाद किसी अच्छे कॉलेज में MBBS की ग्रेजुएशन डिग्री हासिल करने के लिए आपको NEET एग्जाम क्वालीफाई करना होगी। ग्रेजुएशन पूरा करने के पश्चात इंटर्नशिप पूरी करें। फिर भारत में एक डॉक्टर के रूप में काम या प्रैक्टिस करने के लिए, आपको मेडिकल कॉउन्सिल ऑफ इंडिया (MCI) के साथ पंजीकरण करना होगा।

डॉक्टर की सबसे छोटी डिग्री MBBS ही होती है। भारत में सबसे ज़्यादा ली जाने वाली डिग्री एमबीबीएस है। ज़्यादातर विद्यार्थी MBBS करने के इच्छुक रहते हैं, इसलिए MBBS कोर्स में कम्पटीशन सबसे ज़्यादा होता है।

एमबीबीएस डॉक्टर कैसे बने (MBBS Doctor Kaise Bane), यह अब आपको अच्छे से समझ में आ गया होगा।

Doctor Banne Ke Liye Kitne Percentage Chahiye

इसके लिए उम्मीदवार को मेडिकल कॉलेज में प्रवेश परीक्षा देनी होती है, जिसके लिए 12th में कम से कम 50% अंक होने अनिवार्य है वरना आप Entrance Exam नहीं दे सकते। ये प्रवेश परीक्षा है- CET, AIMEE, AIPMT, NEET आदि। यह प्रवेश परीक्षा काफी कठिन होती है, इसलिए इसकी तैयारी भी पूरी निष्ठा एवं लग्न के साथ करनी होती है। परीक्षा का Syllabus आपके Intermediate के Syllabus पर आधारित होता है। बहुत से कोचिंग इंस्टिट्यूट प्रवेश परीक्षा की तैयारी भी कराते है।

Doctor बनने के लिए बारहवीं के बाद IMPMT या NEET के Previous Year Question Paper Solve करने चाहिए। Doctor Banane Ka Course इसके लिए आपको प्रश्न पत्र के प्रारूप को समझना होगा।

MBBS Kitne Saal Ka Hota Hai

यह कोर्स 4 साल 6 महीने का होता है, जिसमे 9 सेमेस्टर होते है तथा एक वर्ष की इंटर्नशिप होती है। इस तरह पुरे MBBS Course Duration 5.5 साल का होता है। भारत में 562 एमबीबीएस कॉलेजों में कुल 84,649 एमबीबीएस मेडिकल सीटें है, जिसमें 286 सरकारी और 276 निजी संस्थान शामिल है।

Doctor Banne Ke Liye Kya Karna Padta Hai

12वीं कक्षा PCB से पूरी करने के बाद आपको NEET एंट्रेंस एग्जाम पास करनी होगी और जिसके बाद 4.5 साल का MBBS कोर्स पूरा करना होगा। ग्रेजुएशन कोर्स भारत में 5.5 साल के लिए होता है जिसमें 1 वर्ष की इंटर्नशिप भी करनी होती है।

Doctor Banne Ke Liye College Fees

NEET के तहत निजी मेडिकल कॉलेजों की शुल्क संरचना विभिन्न डीम्ड विश्वविद्यालयों में मैनेजमेंट कोटा के लिए वार्षिक MBBS Ki Fees आमतौर पर काफी अधिक होती है और यह 2,11,000/- रु. से 2250,000/- रु. के बीच हो सकती है।

सरकारी कॉलेजों में एमबीबीएस कोर्स की फ़ीस और निजी कॉलेजों में एमबीबीएस कोर्स की संभावित फ़ीस बताई है-

  • AIIMS की फ़ीस लगभग 1 हजार रूपये है।
  • दिल्ली में एमबीबीएस की फ़ीस 1355 से लेकर 50 हजार रूपये है।
  • यूपी और आईपी यूनिवर्सिटी में सालाना फीस 6 हजार से 50 हजार रूपये है।
  • निजी विश्वविद्यालय में 10 से 20 लाख रूपये हर साल की फीस है।

सबसे सस्ते मेडिकल कॉलेज

मेडिकल कॉलेज शहर
कस्तूरबा मेडिकल कॉलेज (KMC) मैंगलोर
अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIMS) नई दिल्ली
मौलाना आज़ाद मेडिकल कॉलेज (MAMC) नई दिल्ली
लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज (LHMC) नई दिल्ली
जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज (JLN) अजमेर
क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज (CMC) वेल्लोर
मद्रास मेडिकल कॉलेज (MMC) चेन्नई

MBBS डॉक्टर की सैलरी

MBBS डॉक्टर की सैलरी की सरकारी अस्पताल मे 35,000/- से 40,000/- होती है। वेतनमान के अनुसार इनकी सैलरी बढ़ती जाती है। डॉक्टर की सैलरी Institute पर भी निर्भर करती है। आइये AIMS के Doctors के सैलरी पैकेज पर एक नज़र डालते हैं।

  • JIPMER के डॉक्टर का पैकेज 40000 से 100000 तक हो सकता है।
  • AFMC (Armed Force Medical College) का पैकेज रैंक पर निर्भर करता है। ये 57000 से 211600 तक रैंक के अनुसार होता है।
  • नेवी (Navy) के डॉक्टर औसत पैकेज 27 LPA- 34 LPA होता है।
  • आर्मी डॉक्टर का पैकेज 65000 प्रतिमाह होता है।
  • प्राइवेट में 60000-70000 तक प्रतिमाह वेतन होता है।

Conclusion 

आशा है, आपको हमारा यह आर्टिकल डॉक्टर कैसे बने? पसंद आया होगा और इसमें यह Doctor Kese Bane की यह जानकारी आप सभी के लिए उपयोगी रही होगी। आप इस लेख डॉक्टर बनने के लिए कोर्स क्या है को अपने परिवार और दोस्तों के साथ शेयर कर उन्हें भी इस जानकारी से लाभान्वित कर सकते है। आपके सुझाव और सवाल हमारे लिए प्रथम वरीयता रखते है। आप हमे कमेंट कर ज़रूर बताएं कि, ये लेख आपको कैसा लगा। पोस्ट को अंत तक पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद।

डॉक्टर कैसे बने से जुड़े – FAQs

  • MBBS डॉक्टर बनने के बाद क्या करें?

डॉक्टर की सबसे बड़ी डिग्री M.D. (Doctor Of Medicine) है। यह सुपर-स्पेशलाइजेशन है और इस कोर्स की अवधि 3 वर्ष की है। इसके बाद ही छात्र D.M. (Doctorate of Medicine) बनने के लिए स्टडी करते है। D.M. की डिग्री पीएचडी की डिग्री के समकक्ष है।

  • कम पैसे में डॉक्टर कैसे बने?

सबसे पहले आपको किसी अच्छे सरकारी कॉलेज में MBBS की सीट पाने के लिए, ग्रेजुएशन के बाद NEET-UG में अच्छे अंक हासिल करने के लिए बहुत कठिन अध्ययन करना होगा, ताकि आपको Govt कॉलेज में सीट मिल सके।

  • डॉक्टर बनने के लिए कौनसा सब्जेक्ट लेना चाहिए?

Doctor बनने के लिए आपको दसवीं कक्षा के बाद Science PCB स्ट्रीम लेना चाहिए।

  • एमबीबीएस पाठ्यक्रम की अवधि कितनी होती है?

MBBS कोर्स की अवधि 5 वर्ष 6 माह होती है।

  • डॉक्टर कितने प्रकार के होते हैं?

ये 4 प्रकार के होते है –

  1. एलोपैथिक डॉक्टर
  2. होमियोपैथिक डॉक्टर
  3. आयुर्वेदिक डॉक्टर या वैध
  4. यूनानी डॉक्टर या हकीम

आपको हमारा यह लेख कैसा लगा ?

Leave a Comment